ब्रिटेन को पछाड़, भारत बना दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था।

62 0

एक दौर था जब उपनिवेशवाद की वजह से भारत दुनिया के सबसे गरीब मुलकों में शुमार हो गया था, लेकिन आज भारत की तस्वीर कुछ और ही बयां कर रही है। भारत अब दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुका है।

आज के समय में भारत अंतर्राष्ट्रीय पटल पर खुलकर अपनी बात को रखता है, वह इस बात की फ़िक्र नहीं करता कि दुनिया उसके बारे में क्या सोचती है, बल्कि आज के भारत में सबसे पहले इस बात का खयाल रखा जाता है कि आखिर भारतीयों को अंतर्राष्ट्रीय फ़ैसलों से कितना फ़ायदा या नुकसान होगा।


आजादी के 75 साल बाद आज भारत गर्व से दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रुप में खड़ा है। इसका सबसे बड़ा फ़ायदा ये होगा कि अब विदेशी निवेशकों का भारत पर भरोसा और भी ज़्यादा बढ़ जाएगा। इससे, नए रोज़गार के अवसर भी पैदा होंगे।


इसमें कोई शक नहीं है कि भारत में महंगाई लगातार बढ़ रही है और रुपया भी लगातार कमज़ोर पड़ता जा रहा है, लेकिन भारत की बेहतर होती अर्थव्यवस्था का असर न सिर्फ़ देश पर, बल्कि देश के लोगों की जिंदगी पर भी पड़ेगा। हालांकि, यह बात भी सच है कि बेहतर अर्थव्यवस्था का असर इतनी जल्दी नहीं दिखेगा, लेकिन लंबी अवधि में लोगों की जिंदगी पर इसका असर साफ़ नज़र आएगा।


फिलहाल सालाना आधार पर देखा जाएगा, तो भारत की अर्थव्यवस्था लगभग 3.17 लाख करोड़ डॉलर की है। मौजूदा समय में दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अमेरिका है और इसके बाद चीन, जापान और जर्मनी जैसे देशों का स्थान आता है।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published.