प्राणायाम, कई गंभीर बीमारियों को करता है। जड़ से खत्म

57 0

आज कल की भाग-दौड़ भरी ज़िदगी में ज़्यादातर लोग कामकाज और निजी कारणों की वजह से तनाव में रहने लगे है जिसका सीधा असर सेहत पर पड़ता है। ऐसे में स्वस्थ रहने के लिए प्राणायम एक अच्छा विकल्प है। इस बात को लेकर कई अभ्यास किए गए हैं कि सांस का यह अभ्यास कई गंभीर बीमारियों को खत्म करने में काफी लाभदायक साबित हो सकता है।

दरअसल प्राणायम शरीर और मन को जोड़ने की एक विधि है जिससे सांसों को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। साथ ही, प्राणायाम की मदद से मन को भी नियंत्रित किया जा सकता है, जिससे कई हद तक तनाव को खत्म किया जा सकता है।

प्राणायाम के लाभ

प्राणायाम के खास शारीरिक लाभ के बारे में बात की जाए, तो यह तनाव को कम करने में मदद करता है। एक अध्ययन के मुताबिक जो लोग तनाव महसूस करते हैं अगर वे नियमित रूप से कुछ दिनों तक प्राणायाम का अभ्यास करें तो इससे मन शांत होने लगता है और तनाव में भी कमी आती है।

हाई ब्लड प्रेशर को कम करता है। प्राणायाम

जो लोग हाई ब्लड प्रेशर के शिकार हैं उन्हें भी प्राणायाम करने की सलाह दी जाती है। प्राणायाम की मदद से हाई उच्च रक्तचाप को भी काफी कम किया जा सकता है। एक रिसर्च से यह भी साबित हुआ है कि प्राणायाम का अभ्यास फेफड़ों को भी मज़बूत बनाता है। एक रिसर्च में यह बात साबित हुई है कि प्राणायाम फेफड़ों को मज़बूत बनाने में भी सहायक होता है। ऐसे में अस्थमा और टीबी जैसी फेफड़ो से जुड़ी कई गंभीर बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।

वैसे तो प्राणायाम के कई फ़ायदे हैं लेकिन फिर भी आपको किसी योग विशेषज्ञ से परामर्श करने के बाद ही प्राणायाम करना चाहिए। इसकी वजह यह है कि कई गंभीर बीमारियों में कई तरह के प्राणायम करने की सलाह नहीं दी जाती, इसलिए यह ज़रूरी होता है कि प्राणायम का अभ्यास शुरू करने से पहले आपने किसी योग विशेषज्ञ की राय ली हो।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published.