दिल्ली का कूड़े का पहाड़ लोगों के लिए बना मुसीबत

58 0

आपने कई कूड़े के ढेर को देखा होगा लेकिन आपने एक कूड़े का पहाड़ देखा है जिसकी ऊचाई आपकी सोच से भी परे है।

आप जिस पहाड़ पर हजारों बाज़ उड़ते देख रहे है वो दिल्ली का एक कुड़े का पहाड़ है। दिल्ली के पास गाजीपुर इलाके में ये बड़ा सा कुड़े का पहाड़ दिन ब दिन बढ़ता ही जा रहा है। इस कुड़े के पहाड़ पर दिल्ली और आसपास के इलाके का कुड़ा इक्कठा होता है। इस लैंडफिल साइट में करीब 140 लाख टन कूड़ा इक्कठा है

आप इस कुड़े के पहाड़ के पास से भी गुजरेंगें तो आपकी सांस फूल जाएगी इसकी बदबू से आसपास के इलाके भी बदबूदार हो चुके है।

इस कुड़े के पहाड़ से निकल रही जहरीली गैसों की वजह से आसपास के कई इलाके इतने ज्यादा प्रदूषित हो चुके है जिसकी वजह से कई लोगों की मौत तक हो गई है।

इंदिरापुरम, गाजियाबाद, गाजीपुर, मयूर विहार, दिल्ली, वैशाली और नोएडा के कई इलाकों का कुड़ा इसी लैंडफिल में इक्कठा किया जाता रहा है। जिसकी वजह से आज ये लैंडफिल कूड़े के पहाड़ का रूप ले चुका है।

गाजीपुर कुड़े का पहाड़ यानि लैंडफिल साइट की शुरुआत 1984 में हुई थी। इस लैंडफिल साइट की ऊंचाई कुछ साल पहले 65 मीटर मापी गई थी।

गाजीपुर लैंडफिल साइट पूर्वी दिल्ली नगर निगम यानि EDMC के तहत आती है।

आपको बता दें कि गाजीपुर के अलावा दिल्ली में दो और कूड़े के पहाड़ हैं पहला ओखला लैंडफिल साइट और दूसरा भलस्वा लैंडफिल साइट। इन दोनों लैंडफिल साइट की शुरुआत साल 1996 में हुई थीं।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published.