दम घोट रही दिल्ली की हवा, बद से बदतर होता जा रहा प्रदूषण का स्तर

40 0

सर्दियां दस्तक दे चुकी हैं और बीते कई सालों की तरह इस बार भी सर्दी के आने से पहले दिल्ली में वायु प्रदूषण बढ़ता जा रहा है। दिल्ली की आबोहवा अब भी खराब बनी हुई है। बढ़ते प्रदूषण के चलते लोग कई तरह की बीमारियों का शिकार हो रहे हैं।

दिल्ली के आस-पास के राज्यों में पराली के जलने की वजह से पूरे एनसीआर रीजन में घुंआ जमा हो चुका है। इसके अलावा, दिल्ली एनसीआर में वायु की गुणवत्ता खराब होने की एक वजह यहां गाड़ियों का घुंआ भी है। गाड़ियों और पराली से निकलने वाला धुएं का गुबार पूरी दिल्ली में छा गया है।

दिल्ली एनसीआर में कितना प्रदूषण

पूरे दिल्ली की आबोहवा खराब होने की वजह से लोगों को कई तरह की गंभीर समस्याएं भी हो रही है। दिल्ली के अलावा गाज़ियाबाद, नोएडा, फरीदाबाद और गुरुग्राम में भी हवा की गुणवत्ता की स्थिति काफी खराब बनी हुई है। पूरे एनसीआर में हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं।

दिल्ली की एक्यूआई अब भी ‘गंभीर’ श्रेणी में बना हुआ है। यहां कुल एक्यूआई फिलहाल 400 से 430 के आस-पास बना हुआ है।

बता दें कि फिलहाल दिल्ली में ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान लागू है। ग्रैप की मदद से सरकार प्रदूषण पर लगाम लगाने की कोशिश कर रही है, लेकिन फिलहाल इसका कोई खास असर नज़र नहीं आ रहा है।

दिल्ली में हवा की गुणवत्ता को देखते हुए कई कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम यानि घर से काम करने के लिए कहा गया है। इतना ही नहीं वायु की गुणवत्ता को देखते हुए दिल्ली और नोएडा के कई प्राइमरी स्कूलों को बंद करने का एलान कर दिया गया है।

माना जा रहा है कि दिल्ली सरकार प्रदूषण के स्तर को देखते हुए ऑड-ईवेन लागू करने पर भी विचार कर सकती है, जिससे हवा में घुले हुए जहर के स्तर को कम किया जा सके।

Related Post

स्ट्रॉबेरी, वनीला, डार्क चॉकलेट और मिंट फेवरेट आइसक्रीम से जाने पर्सनैलिटी के राज।

Posted by - November 24, 2022 0
आइसक्रीम खाना किसे नही पसंद चाहे सर्दियां हो या गर्मियां मीठे में खाने के लिए ज्यादातर लोगों की पहली पसंद…

Leave a comment

Your email address will not be published.