जब भारतीय डॉ. ने बचाई पाकिस्तानी अफशीन गुल की जान, मुफ़्त में किया इलाज

42 0

यह कहानी एक ऐसी पाकिस्तानी लड़की की है जिसका अब भारत से एक खास रिश्ता बन चुका है। पाकिस्तान के सिंध प्रांत के मिट्ठी की रहने वाली 13 साल की अफशीन गुल की ये कहानी कुछ वक्त के लिए आपको दोनों मुल्कों के तल्ख रिश्तों को भूलने पर मजबूर कर देगी।

अफशीन गुल की हालत

जन्म के वक्त अफशीन गुल दिमागी रूप से ठीक नहीं थी। जब अफशीन 10 महीने की थीं तो एक दिन जमीन पर गिरने की वजह से उसकी गर्दन 90 डिग्री के एंगल में मुड़ गई। हादसे के वक्त घर वालों को लगा कि अफशीन की गर्दन में मामूली चोट है जो समय के साथ ठीक हो जाएगी। लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

समय गुजरता गया लेकिन अफशीन की गर्दन मुड़ी ही रही। अफशीन न तो स्कूल जा सकती थी और न ही नॉर्मल बच्चों की तरह खेल सकती थी। इस बच्ची ने इसी हालत में अपनी जिंदगी के 13 साल गुज़ार दिए।

क्या आप भी तुलसी के गमले में रखते है गणेश और शिव की मुर्तियां? तो हो सकते है कंगाल

भारतीय डॉ. राजगोपाल ने किया अफशीन गुल का इलाज

अफशीन की इस हालत की खबर पूरे पाकिस्तान में फैल गई। इसके बाद, इंटरनैशनल मीडिया में भी इस खबर ने सुर्खियां बटोरनी शुरू कर दी। इंटरनेशनल मीडिया में इस खबर के पहुंचने के बाद ये बात भारत तक भी पहुंची। इसके बाद, भारत में अपोलो के डॉ. राजगोपाल ने इस बच्ची की मदद के लिए हाथ बढ़ाया।

अफशीन के परिवार वाले उसे भारत लेकर आए। राजगोपाल कृष्णा इससे पहले इस तरह की सर्जरी कर चुके थे, लिहाजा उनके लिए इस बच्ची का इलाज करना पॉसिबल था। डॉ.कृष्णा ने अफशीन का इलाज शुरु किया और स्क्रूज की मदद से उसकी गर्दन को सीधा किया गया। आखिरकार इलाज सफल हुआ और अफशीन की गर्दन एक सामान्य बच्चे की तरह सीधी हो गई।


डॉ. कृष्ण ने अफशीन के इलाज के लिए कोई पैसा नहीं लिया। बल्कि ट्रीटमेंट के लिए अपनी तऱफ से जो हो सकता था वो सबकुछ किया। डॉ. कृष्ण अब भी अफशीन को मॉनिटर कर रहें हैं और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए उसके परिवार से बात करते हैं। अफशीन का परिवार डॉ. कृष्णा को एक मसीहा मानता है।

डॉ. कृष्णा ने इंसानियत को जो मिसाल कायम की उसकी जितनी भी तारीफ की जाए वह कम है। डॉ. कृष्ण को इस पूरी इंसानियत के तरफ से एक सलाम, क्योंकि वह इसके हकदार हैं।
अफशीन की गर्दन ठीक हुए अब काफी वक्त बीत चुका है। यह पहली बार होगा जब अफशीन एक नॉर्मल चाइल्ड की तरह अपने घरवालों के साथ ईद मनाएगी।

Related Post

डायबिटीज होने पर शरीर में कमजोरी को दूर भगा सकता है प्रोटीन का सही मात्रा में सेवर करना।

Posted by - November 14, 2022 0
भारत में लगातार डायबिटीज के मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। आज की युवा पीड़ी भी तेजी से…

Leave a comment

Your email address will not be published.