कुछ लोगों को ज़्यादा मच्छर काटते हैं, मगर क्यों?

66 0

वैसे तो मच्छरों का काटना एक आम बात है, लेकिन कुछ लोग ऐसे होते हैं जिन्हें मच्छर ज़्यादा काटते हैं। मच्छरों का काटना कई बातों पर निर्भर करता है। जिस तरह इंसान खाने का चुनाव करते हैं ठीक उसी तरह मच्छर भी अपना शिकार पसंद के मुताबिक चुनते हैं। हर इंसान के शरीर में ऐसी कुछ चीज़ें मौजूद होती हैं जिनकी वजह से मच्छर काटते हैं।

ऐसा होना स्वभाविक है कि आप किसी जगह पर बैठे हों वहां आपके साथ बैठे लोगों को मच्छर न काटे जबकि आपको बहुत ज़्यादा मच्छर काट रहे हों। आपके शरीर से जो कार्बन डाईऑक्साइड निकलती है उसकी वजह से भी मच्छरों का आपके पास आना या न आना तय होता है।

कार्बन डाईऑक्साइड

एक रिसर्च के मुताबिक गर्भवती महिलाएं किसी आम इंसान की तुलना में 20 प्रतिशत ज़्यादा कार्बन डाईऑक्साइड रिलीज़ करती हैं। यही वजह है कि गर्भवती महिलाओं को मच्छर ज़्यादा काटते हैं। आपके शरीर से निकलने वाली कार्बन डाईऑक्साइड मच्छरों को इस बात का संकेत देती है कि उनका शिकार आस-पास है। इसलिए अगर किसी स्थान पर मच्छर मौजूद हैं, तो वहां जाने पर मच्छर आपके पास पहुंच जाते हैं।

शरीर पर मौजूद बैक्टीरिया

मच्छरों का काटना आपकी स्किन में मौजूद बैक्टीरिया पर भी निर्भर करता है। आपके शरीर में मौजूद बैक्टीरिया भी मच्छरों को आपकी ओर आकर्षित करते हैं। साथ ही, शरीर से निकलने वाली दुर्गन्ध भी यह तय करती है कि मच्छर आपके पास आएंगे या नहीं।

रंग

एक अध्ययन में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि काले रंग के कपड़े मच्छरों को ज़्यादा आकर्षित करते हैं। इसलिए कभी भी अगर आपको ऐसी जगह पर जाना हो जहां मच्छर ज़्यादा हों, तो काले रंग के कपड़े पहनने से बचें। शाम के समय सैर करते समय जब मच्छर ज़्यादा होते हैं, तो आपको हल्के रंग के कपड़े पहनने चाहिए।

ब्लड ग्रुप

मच्छरों का काटना इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपका ब्लड ग्रुप क्या है। दरअसल, मच्छरों को एक खास ब्लड ग्रुप वाले लोगों का खून ज़्यादा पसंद होता है। एक स्टडी के मुताबिक O ब्लड ग्रुप वाले लोगों को मच्छर ज़्यादा काटते हैं।   

Related Post

शरद पूर्णिमा की रात भगवान श्रीकृष्ण ने किया था महा-रास, और रात हो गई थी अरबों साल लंबी।

Posted by - October 9, 2022 0
हिंदू कैलेंडर के अनुसार आज 9 अक्टूबर को 2022 यानि ज आश्र्विन मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को शरद…

Leave a comment

Your email address will not be published.