breast cancer

कहीं आपको तो नही ब्रेस्ट कैंसर

208 0

हाल ही में बॉलीवुड सेलिब्रिटी महिमा चौधरी ने ये बताया था कि वह ब्रैस्ट कैंसर से जूझ रही हैं। उनके इलावा बॉलीवुड की कई और अभिनेत्रियां है जिन्हें ये बिमारी अपनी गिरफ्त में ले चुकी है। ब्रेस्ट कैंसर का इलाज किया जा सकता है, लेकिन यह जरूरी है कि शुरुआती चरण में ही इस बीमारी का पता लगा लिया जाए। हम आपको इस बीमारी के कुछ लक्षण बताते हैं जिससे इस बीमारी का पता लगाकर उसे बढ़ने से पहले रोक दिया जाए।अगर किसी महिला को ब्रैस्ट कैंसर है तो उनकी ब्रेस्ट और उसके आस-पास सूजन हो सकती है, ब्रेस्ट के साइज और शेप में बदलाव हो सकता है, ब्रेस्ट के आस पास की स्किन में कुछ बदलाव नजर आ सकता है, ब्रेस्ट में काले या भूरे रंग के कई धब्बे दिख सकते हैं। महिलाओं में पुरुषों के मुकाबले ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा ज़्यादा होता है और ये खतरा उम्र बढ़ने के साथ और ज़्यादा बढ़ जाता है, इसलिए यह ज़रूरी है कि आप symtomps दिखने पर तुरंत जांच कराएं। आपको हमारी ये जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं

Related Post

नवंबर महीने की शुरुआत में बदल जाएगें सिलेंडर, बिजली, इंश्योरेंस और GST के नियम।

Posted by - October 31, 2022 0
अक्टूबर महीना खत्म होते ही नवंबर की शुरुआत में सिंलेंडर, बिजली, इंश्योरेंस और GST में महत्वपुर्ण बदलाव होने वाले है,…

प्रधानमंत्री ने गुजरात में गांधीनगर और मुंबई के बीच नई वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई।

Posted by - September 30, 2022 0
प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने गांधीनगर-मुंबई वंदे भारत एक्सप्रेस को गांधीनगर स्टेशन पर हरी झंडी दिखाकर रवाना  किया और वहां से कालूपुर रेलवे स्टेशन तक उस ट्रेन से यात्रा की। जब वे गांधीनगर स्टेशन पहुंचे, तो प्रधानमंत्री के साथ गुजरात के मुख्यमंत्री श्री भूपेंद्र पटेल, गुजरात के राज्यपाल श्री आचार्य देवव्रत, केंद्रीय रेल मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव और केंद्रीय आवास एवं शहरी कार्य मंत्री श्री हरदीप सिंह पुरी उपस्थित थे। प्रधानमंत्री ने वंदे भारत एक्सप्रेस 2.0 के ट्रेन के डिब्बों का निरीक्षण किया और ऑनबोर्ड सुविधाओं का जायजा लिया।श्री मोदी ने वंदे भारत एक्सप्रेस 2.0 के लोकोमोटिव इंजन के कंट्रोल सेंटर का भी निरीक्षण किया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने गांधीनगर और मुंबई के बीच वंदे भारत एक्सप्रेस के नए और उन्नत वर्जन को हरी झंडी दिखाई और वहां से कालूपुर रेलवे स्टेशन तक ट्रेन से यात्रा की। प्रधानमंत्री ने रेल कर्मचारियों के परिवार के सदस्यों, महिला उद्यमियों और अनुसंधानकर्ताओं और युवाओं सहित अपने सह-यात्रियों के साथ भी बातचीत की। उन्होंने वंदे भारत ट्रेनों को सफल बनाने के लिए कड़ी मेहनत करने वाले श्रमिकों, इंजीनियरों और अन्य कर्मचारियों के साथ भी बातचीत की। गांधीनगर और मुंबई के बीच वंदे भारत एक्सप्रेस 2.0 गेम चेंजर साबित होगी और भारत के दो व्यापारिक केंद्रों के बीच कनेक्टिविटी को बढ़ावा देगी। इससे गुजरात के कारोबारियों को अहमदाबाद से गांधीनगर आने जाने के दौरान हवाई यात्रा जैसी सुविधाएं प्राप्त होगी और उन्हेंहवाई जहाज के महंगे किराए का वह भी नहीं उठाना होगा। गांधीनगर से मुंबई तक वंदे भारत एक्सप्रेस 2.0 से एक तरफ की यात्रा में लगभग 6-7 घंटे का समय लगने का अनुमान है। वंदे भारत एक्सप्रेस 2.0 का…

Leave a comment

Your email address will not be published.